पेट और कमर की चर्बी कम कैसे करें ? Tips To Reduce Belly Fat In Hindi – डाइट, एक्सरसाइज और अन्य टिप्स

पेट पर चर्बी जमा होने के कारण, पेट की चर्बी कम करने के लिए योग, पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं तथा पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए जरुरी व्यायाम, tips to reduce belly fat in hindi

आज की busy lifestyle और खाने-पीने की आदतों की वजह से ज्यादातर लोग मोटापे की समस्या से परेशान होते जा रहें हैं। पेट की चर्बी कम करने के लिए तरह-तरह के उपाय करते हैं। Belly Fat यानी आपकी कमर के आसपास जमी चर्बी, जो आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकती है।

पेट और कमर पर जमी जरूरत से ज्यादा चर्बी चिंता का विषय है। यह न सिर्फ दिखने में खराब लगती है, बल्कि इसके कारण हाई ब्लड शुगर, हाई कोलेस्ट्रोल और हृदय की कई बीमारियां भी हो सकती हैं। इसलिए पेट की चर्बी को कम करना बेहद जरूरी है। तो ऐसे में हमने सोचा क्यों न आप लोगों के साथ Tips To Reduce Belly Fat In Hindi अर्थात पेट की चर्बी कैसे घटाएं ? के बारे में बताया जाए।

तो चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं – कारगर व्यायाम (exercise), योग व आहार (diet) के बारे में, जो आपके पेट की चर्बी को कम करने में मदद कर सकते हैं। लेकिन इन सभी चीजों का फायदा तभी है, जब आप इन्हें नियमित रूप से अपनी दैनिक दिनचर्या पर अपनाएंगे। एक-दो दिन करके इसे छोड़ देने से फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है। स्वस्थ

पेट पर चर्बी जमा होने के कारण – Causes of Belly Fat In Hindi

पेट पर थोड़ी-बहुत चर्बी का होना सामान्य बात है। लेकिन वहीँ अगर चर्बी जरूरत से ज्यादा हो, तो कई बीमारियों से जूझना पड़ सकता है। तो आईये अब हम बात करते हैं चर्बी के प्रमुख कारणों के बारे में। हो सकता है कि आप इनमें से कुछ पेट पर चर्बी जमा होने के कारण जानते हो, लेकिन अच्छी तरह और विस्तार से न जानते हो।

  • आनुवंशिक (Genetic) : वैज्ञानिक शोध के अनुसार, शरीर में कुछ मोटापा cell की वजह से होते हैं, जो मुख्यतः पहले से ही आनुवंशिक तौर पर developed होते हैं। जैसे की – अगर किसी के parents इस परेशानी से ग्रस्त हैं, तो आने वाली पीढ़ी यानि की generation को भी यह समस्या होने की आशंका हो सकती है।
  • खराब गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल प्रक्रिया : जैसा की हम सभी जानते हैं कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ पाचन तंत्र (Digestive System) भी कमजोर होने लगता है, जिससे हमारी गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम भी प्रभावित होने लगता है। यह भी एक मुख्य कारण है पेट की चर्बी बढ़ने का।
  • हार्मोन में बदलाव : आमतौर पर इस problem को महिलायों को face करना पड़ता है, जब वह अपने उम्र के लगभग 40 वर्ष में पहुँच जाती हैं। क्योंकि मेनपॉज यानी रजोनिवृत्ति के दौरान estrogen hormone का स्तर कम और androgen hormone का स्तर ज्यादा हो जाता है। और यही वजह है कि शरीर के वजन के मुकाबले चर्बी तेजी से बढ़ सकती है, जिससे कमर के आसपास की चर्बी अधिक हो जाती है।
  • तनाव : कोई भी व्यक्ति, जब वह तनाव (tension) से ग्रस्त हो जाता है तो वह कई बीमारियों (diseases) से घिरता चला जाता है। शरीर में चर्बी का बढ़ाना भी उन्हीं में से एक है, जो तनाव के कारण रक्त में कोर्टिसोल नामक हार्मोन का स्तर बढ़ा देता है। जिसकी वजह से वसा कोशिकाएं यानि की fat cells की मात्रा शरीर में बढ़ने लगती हैं और यही वजह है कि हमारे शरीर में चर्बी बढ़ने लगती हैं। आमतौर पर इस स्थिति में चर्बी पेट के आसपास ही बढ़ती है।
  • अन्य बीमारियां : कुछ बीमारियां ऐसी भी होती हैं, जिनकी चपेट में आने से वजन बढ़ने लग जाता है। इसके अलावा किडनी संबंधी समस्या, थायराइड और हार्ट फेल से भी मोटापा बढ़ सकता है।
  • मांसपेशियों में ढीलापन : जब पेट के आसपास की मांसपेशियां ढीली होने लगती हैं तो हो सकता है कि उस जगह की चर्बी बढ़ना शुरू हो जाए। हालांकि इस पर कोई सटीक शोध उपलब्ध नहीं है।
  • बैठकर काम करने की आदत : आज की बढ़ती इस आधुनिकता के दौर में technology ने हमारे जीवन को इतना आसान बना दिया है कि व्यक्ति का शारीरिक गतिविधियां करना लगभग बंद हो गया है। हर कोई अपना काम बैठे-बैठे ही करने की कोशिश करता है। फिर चाहे office में हों या फिर घर में। अब लोग समय निकालकर कसरत करने की जगह, कई लोग टीवी देखना या फिर कंप्यूटर पर काम करना ज्यादा पसंद करते हैं, जिसकी वजह से शरीर में चर्बी का स्तर बढ़ने लगता है।
  • कम प्रोटीन और ज्यादा कार्बस : हम दिनभर में क्या कुछ नहीं खाते। कभी-कभी काम के दबाव या फिर तनाव में जरूरत से ज्यादा ही खा लेते हैं और पोषक तत्वों पर भी ध्यान नहीं देते हैं। शरीर में स्वाद के चक्कर में प्रोटीन कम और कार्बस व फैट ज्यादा हो जाता है। फिर एक ही जगह बैठकर काम करते रहना। इस तरह कमर व पेट के आसपास चर्बी बढ़ने लगती है। इसी वजह से हाई प्रोटीन और लो कार्बोहाइड्रेट डाइट को वजन कम करने में फायदेमंद माना जाता है।

अब आप जान गए होंगे कि चर्बी कैसे बढ़ती है। आइए, अब पेट कम करने की एक्सरसाइज के बारे में जानते हैं।

पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए व्यायाम – Exercises To Reduce Belly Fat In Hindi

आईये अब बात करते हैं पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए व्यायाम – Exercises To Reduce Belly Fat In Hindi में। क्योंकि कुछ लोगों के पेट व कमर की चर्बी के कारण वो चाहकर भी अपने पसंदीदा कपड़े नहीं पहन पाते हैं। कई बार चर्बी की वजह से दूसरों के सामने उठते-बैठते हुए मन में हीनभावना आने लगती है, क्योंकि उनके पेट की चर्बी कपड़ों से साफ नजर आ जाती है।

इस तरह के लोग हमेशा इस सोच में डूबे रहते हैं कि पेट की चर्बी कैसे घटाएं ? ऐसे में हम आपको यही कहेंगे कि आप नियमित तौर पर व्यायाम करें। लेकिन अगर फिर भी आपके मन में ऐसा सवाल है कि कौन-सा व्यायाम करें तो आप नीचे बातये गए exercise को follow कर सकते हैं, जो बहुत ही सरल और असरदार भी हैं एवं हमारी दैनिक जीवन से भी जुड़ी हैं।

1. दौड़ना (Running)

शरीर को चुस्त व दुरुस्त रखने के लिए running करना हमारे लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। क्योंकि दौड़ लगाने से हमारा हृदय अच्छे से काम करता है और अतिरिक्त कैलोरी बर्न होती है, जिससे धीरे-धीरे चर्बी कम हो सकती है। अर्थात जो भी हमारे शरीर में calorie present होती है, वह दौड़ने से use हो जाती है। जिससे हमारे body में कैलोरी की मात्रा maintain रहती है और मोटापा एवं चर्बी जैसी समस्या बिलकुल नहीं हो पाती।

शुरुआत में कुछ मीटर ही दौड़ें और तेज की जगह धीरे-धीरे दौड़ें। जब इसकी कुछ practice हो जाए तो गति और समय दोनों में वृद्धि कर सकते हैं। इसे हमने अपने list में पहले इसलिए रखा है, क्योंकि यह काफी सरल और असरदार है आपके पेट और कमर की चर्बी कम करने में।

इसके साथ-साथ हम आपको यह भी बता दें कि जब आप running कर रहे होते हैं तो उस वक्त आपका heart यानी हृदय normal heart beat के मुकाबले तेजी से pump होता है, जिससे आपकी respiratory system अच्छी तरह work करने लगता है। जिससे आपकी श्वास से संबंधित problem दूर हो जाती है और साथ ही श्वास लेने की capacity भी पहले के मुकाबले बढ़ जाती है।

2. तैराकी (Swimming)

यह भी एक अच्छा उपाय है कमर और पेट कम करने का। इससे भी शरीर में अतिरिक्त जमा वसा कम होने लगता है। क्योंकि तैराकी करने से न सिर्फ हमारा वजन कम होता है, बल्कि शरीर भी बेहतर personality developed करने लगता है।

इसे आप हफ्ते में एक या दो बार कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि – अगर आपने पहले कभी तैराकी नहीं की है, तो इसे किसी trainer की देखरेख में ही करें। तैराकी करने से हमारे शरीर में फुर्तीलापन एवं चेहरे में रौनक नजर आने लगती है।

3. साइकिलिंग (Cycling)

पेट कम करने के लिए व्यायाम के रूप में साइकिलिंग भी की जा सकती है। इसे सबसे बेहतर व आसान कार्डियो एक्सरसाइज (हृदय के लिए) माना गया है। क्योंकि इससे पैरों, टांगों और जांघों की अच्छी exercise होती है। साथ ही इससे शरीर की अतिरिक्त चर्बी व कैलोरी भी कम हो जाती है।

इसी वजह से हमने साइकिलिंग को कमर की चर्बी कम करने में शामिल किया है। प्राचीनकाल में लोग cycle का ही ज्यादातर इस्तेमाल करते थे, जिसकी वजह से उन्हें कोई भी खतरनाक बीमारियों से सामना नहीं करना पड़ता था।

4. पैदल चलना (Walking)

बढ़ा हुआ पेट कम करने के घरेलू उपाय में हमने पैदल चलना भी शामिल किया है। जी हां, अगर आप ऊपर बताई गयी तीनों tips को follow नहीं करना चाहते हैं, तो ऐसे में आप रोज सुबह-शाम आधा घंटा पैदल चल सकते हैं। क्योंकि इससे भी शरीर में जमी अतिरिक्त चर्बी कम हो सकती है।

संभव हो, तो तेज कदमों से चलें। इसे बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय में सबसे आसान और सुरक्षित माना गया है। इसमें भी श्वास संबंधित समस्या से निवारण करने की गुण भी शामिल हैं।

5. वेट ट्रेनिंग (Weight Training)

पेट की चर्बी कम करने के उपाय में वेट ट्रेनिंग exercise भी शामिल है। भार उठाने वाले व्यायाम करने से न सिर्फ शरीर को आकर्षक shape (आकार) मिलता है अपितु शरीर का वसा भी कम हो जाता है। लेकिन ध्यान रहे कि weight training सिर्फ पेशेवर ट्रेनर की देखरेख में ही करें।

इसे आप regular तौर पर करें साथ ही इसके दौरान आप रोजाना कुछ Dry Fruits का सेवन जरूर करें। ताकि आपके शरीर को कुछ पौष्टिक तत्व मिल सके, जिससे आपकी शरीर में कुछ fitness भी develop हो सके। क्योंकि अगर आप केवल simple भोजन लेते हैं तो आप कभी-भी weight loss के साथ पेट और कमर की चर्बी कम नहीं कर सकते हैं, बल्कि आप दुबले-पतले भी हो सकते हैं।

ऐसा इसलिए, क्योंकि जब हम मेहनत कर रहें होते हैं तो ऐसे में हमारे शरीर को और nutrition यानी की पौष्टिक तत्व की जरुरत पड़ती है। इसीलिए हम आपको यह recommend कर रहें हैं।

6. सिट-अप (Sit ups)

कमर और पेट की चर्बी कम करने की एक्सरसाइज में सिट-अप भी शामिल है। इस आसान व्यायाम से न सिर्फ पेट की बल्कि शरीर के अन्य हिस्से का फैट भी कम हो सकता है। सुबह या शाम अपनी सहुलियत के हिसाब से यह एक्सरसाइज पांच से दस मिनट तक की जा सकती है।

7. सीढ़ियां चढ़ना-उतरना (Climbing Stairs)

बेली फैट कम करने के उपाय में सीढ़ियां चढ़ना और उतरना भी शामिल है। यह पेट कम करने के लिए व्यायाम से कम नहीं है। जी हां, सीढ़ियों को चढ़ने और उतरने से भी extra fat को कम किया जा सकता है। इसके लिए रोजाना सुबह-शाम करीब 10 मिनट घर की सीढ़ियां पर चढ़ना और उतरना शुरू किया जा सकता है।

क्योंकि यह न केवल आपके पेट और कमर की चर्बी को कम करती हैं अपितु जांघ की चर्बी को कम करता है। इसके साथ इसमें भी एक research के मुताबिक श्वास संबंधित जुड़ी problem को दूर किया जा सकता है और वजन भी कम किया जा सकता है।

8. प्लैंक (Plank)

यह एक सरल व्यायाम है। इसे करने से चर्बी कम होने के साथ ही साथ शरीर का संतुलन भी बेहतर होता है। इसे करने के लिए सबसे पहले हमें पुशअप (push-up) करने की अवस्था में आना होगा और फिर पूरे शरीर का भार भुजाओं (shoulder) पर डालते हुए शरीर को एक सीधा (straight) करना होगा।

इस दौरान सिर्फ कोहनी और पंजा जमीन पर होने चाहिए और बाकी का शरीर हवा में। अब जितनी देर हो सके शरीर को इसी अवस्था में रोककर रखें। इससे आपका वजन भी कम किया जा सकता है।

9. बेसिक क्रंच (Basic Crunch)

यह भी एक बेहद एब्स बनाने और पेट कम करने की कसरत के रूप में प्रचलित है, साथ ही इसे करने का तरीका भी आसान है। इसी वजह से इसे पेट की चर्बी कम करने के उपाय में गिना जाता है।

इसे करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल मैट पर लेट जाएं और घुटनों को मोड़ लें। अब अपनी कोहनियों को मोड़ते हुए गर्दन के पीछे रख लें। फिर सांस लेते हुए शरीर के ऊपरी हिस्से को उठाने की कोशिश करें। इसके बाद सांस छोड़ते हुए प्रारंभिक स्थिति में लौट आएं।

10. स्क्वाट (Squat)

यह भी एक बेहतरीन exercise साबित हो सकता है, शरीर के पेट और कमर की चर्बी कम करने एवं वजन करने में। इसे करने के लिए सीधे जमीन पर खड़ा होना होगा। इसके बाद हाथों को आगे सीधा रखते हुए घुटनों को मोड़ लें। अब कुछ second ऐसे ही रहें और फिर प्रारंभिक अवस्था में वापस आ जाएं।

पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं – Sample Diet Tips To Reduce Belly Fat In Hindi

व्यायाम से पेट की चर्बी कैसे घटाएं, यह तो हम बता ही चुके हैं। अब समय है बढ़ा हुआ पेट कम करने के घरेलू उपाय जानने का। आईये अब बात करते हैं कि – पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं ? क्योंकि अगर हम अपने दैनिक जीवन में खान-पान को संतुलित न रखें, तो फिर कोई जितनी भी एक्सरसाइज व योग कर लें, बेली फैट घटाने के उपाय काम नहीं आएंगे।

  • सूप – अगर आप पेट की चर्बी कम करना चाहते हैं, तो ऐसे में आपको अपने आहार में सूप को शामिल करना होगा। खासकर, रात के समय इसका सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती है। यह लाइट (light) यानी की हल्का होता है और इसमें अधिक कैलोरी भी नहीं होती है, जिस वजह से यह चर्बी को बढ़ने ही नहीं देता।
  • फल – पेट कम करने के उपाय में फलों का सेवन भी अपना अलग ही role निभाता है। क्योंकि फल शरीर को जरूरी पोषक तत्व देने के साथ ही वजन को नियंत्रित रखने में भी मदद करते हैं। माना जाता है कि फलों में मौजूद फाइबर वसा कम कर सकता है और यही वजह है कि हमें अपनी नियमित दिनचर्या में फल को शामिल करने के लिए कहा जाता है।
  • सब्जियां – हमारे दैनिक आहार में सब्जियों को बहुत महत्व दी जाती है। क्योंकि सब्जियां शरीर को स्वस्थ रखने और चर्बी को कम करने में मदद करती हैं, क्योंकि इनमें calorie कम होती है।
  • नट्स – बादाम, काजू और अखरोट जैसे dry fruits/nuts भी वजन कम करने में मदद करते हैं। कहा जाता है कि लंबे समय तक सीमित मात्रा में ड्राई फ्रूट्स का सेवन करने से शरीर में ऊर्जा बनी रहती है और बार-बार खाने की इच्छा भी नियंत्रित हो सकती है।
  • बीन्स – पेट कम करने के घरेलू उपाय में आप बीन्स को भी शामिल कर सकते हैं। चाहे हरी बीन्स हों या दाल वाली बीन्स, सभी वजन कम करने में मदद कर सकती हैं। ये फाइबर से परिपूर्ण होती है, जो बार-बार लगने वाली भूख को कम करने और अधिक खाने की इच्छा को नियंत्रित करके वजन कम करने में मदद करता है।
  • फैट फ्री मिल्क और अन्य डेयरी उत्पाद – अगर आप दूध पीने के शौकीन हैं, तो ऐसे में आपको फैट फ्री मिल्क का सेवन करना भी पेट कम करने के घरेलू उपाय में से एक हो सकता है। एक study में बताया गया है कि वसा मुक्त दूध और अन्य dairy products भी पेट कम करने में सहायक होते हैं।
  • घुलनशील फाइबर – बेली फैट घटाने के उपाय में घुलनशील फाइबर भी बेहतरीन तरीका है। इसके सेवन से भूख कम लगती है, जिससे बार-बार खाने की इच्छा नियंत्रित होती है। इससे हम अपने बढ़ते वजन पर काबू पा सकते हैं।
  • हाई प्रोटीन फूड – प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने से वजन कम करने में काफी मदद मिलती है। प्रोटीन रिच फूड में ओट्स, चिया सिड्स, मसूर की दाल, एवोकाडो, सोया दूध आदि शामिल हैं। इसलिए इसे भी पेट कम करने के घरेलू उपाय में शामिल किया जाता है।

पेट कम करने के लिए क्या खाना चाहिए ? इसके साथ-साथ हमें यह भी जानना जरुरी है कि क्या नहीं खाना चाहिए, जो नीचे बताया गया है।

  • शक्कर युक्त व डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ खाने से बचें।
  • स्टार्च युक्त खाद्य पदार्थ जैसे:- चावल, नूडल्स, पास्ता और ब्रेड। इनकी जगह brown rice व brown bread का सेवन करना चाहिए।
  • तंबाकू, शराब व सिगरेट से परहेज करना चाहिए।

पेट की चर्बी कम करने के लिए योग – Yoga For Belly Fat In Hindi

योगासन (exercise) भी बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय में शामिल है। यहां हम कुछ योगासनों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी मदद से वजन कम किया जा सकता है। चलिए, पढ़ते हैं पेट कम करने वाले योगासन के बारे में –

1. कपालभाति

पेट की चर्बी कम करने के घरेलू इलाज के रूप में कपालभाति योगासन करना आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि इसके results जल्द ही देखने को मिलते हैं। साथ ही इसे नियमित रूप से करने से कब्ज, गैस व एसिडिटी जैसी समस्याएं कम हो जाती हैं। पेट की नसें मजबूत करने और पाचन तंत्र भी अच्छा करने में भी इसे सहायक माना जाता है।

योगासन करने का तरीका :

  • जमीन पर सुखासन की मुद्रा में बैठ जाएं और आंखें बंद कर लें।
  • एक लंबी गहरी सांस लें और छोड़ दें।
  • अब धीरे-धीरे नाक के जरिए सांस को बाहर छोड़ें। जब सांस बाहर छोड़ेंगे, तो पेट अंदर की ओर होना चाहिए।
  • ध्यान रहे कि इसे करते हुए सांस को अंदर नहीं लेना है, सिर्फ छोड़ना है और ऐसा लगातार करना है।
  • प्रतिदिन इस आसन के पांच चक्र सुबह-शाम खाली पेट करने से लाभ होगा।

सावधानी : सुबह खाली पेट ही यह आसन करना चाहिए और इसे करने के आधे घंटे बाद ही कुछ खाना चाहिए। अगर शाम को कर रहे हैं, तो खाना खाने के पांच घंटे बाद करें। गभर्वती महिला को इसे नहीं करना चाहिए।

2. अनुलोम-विलोम प्राणायाम

पेट की चर्बी कम करने के घरेलू उपाय में अनुलोम-विलोम प्राणायाम भी शामिल है। बेशक, यह आसन करने में आसान है, लेकिन मोटापा कम करने में यह काफी कारगर हो सकता है। मुख्य रूप से इसे नाड़ी शोधन प्राणायाम भी कहते हैं। इससे शरीर में रक्त का प्रवाह ठीक से होता है।

योगासन करने का तरीका :

  • जमीन पर सुखासन की मुद्रा में बैठ जाएं और आंखें बंद कर लें।
  • अब दाएं हाथ के अंगूठे से दाएं तरफ की नासिका छिद्र को बंद कर दें और बाईं नासिका से सांस लें।
  • अब दाएं हाथ की सबसे छोटी व उसके साथ की उंगली से बाएं तरफ की नासिका को बंद कर दाईं तरफ से सांस को धीरे-धीरे छोड़ें।
  • अब इसी स्थिति में रहते हुए सांस को अंदर खींचे और फिर दाईं तरफ से नाक को बंद कर बाईं तरफ से सांस को छोड़ें।
  • इस तरह के चक्र क्षमतानुसार चार-पांच बार किए जा सकते हैं।

सावधानी : उच्च रक्तचाप व हृदय के रोगी को प्रशिक्षित योग गुरु से सलाह लेकर व उनकी देखरेख में इसे करना चाहिए। साथ ही इसे कभी जोर से या तेज गति से न करने की सलाह दी जाती है।

3. बालासन

पेट की चर्बी घटाने के लिए बालासन भी अच्छा विकल्प है। क्योंकि इस आसन को करते समय शरीर की स्थिति मां के कोख में पलने वाले भ्रूण की तरह होती है। इसी वजह से इसे बालासन योग कहा जाता है। बालासन पेट की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद कर सकता है। इसे रोज करीब 10 मिनट करने से पेट अंदर हो सकता है।

योगासन करने का तरीका :

  • सबसे पहले वज्रासन यानी घुटनों के बल बैठ जाएं और पूरा वजन एड़ियों पर डालें।
  • अपनी कमर को सीधा रखते हुए और सांस लेते हुए हाथों को सीधा ऊपर ले जाएं।
  • अब सांस छोड़ते हुए आगे की तरफ झुक जाएं।
  • कोशिश करें कि सिर जमीन से लग जाए और हाथ सीधे रहें।
  • कुछ सेकंड इस स्थिति में सामान्य गति से सांस लेते रहें और फिर सांस लेते हुए वापस उठें।

सावधानी : अगर पीठ में दर्द हो या फिर घुटनों का ऑपरेशन हुआ हो, तो यह आसन न करें। साथ ही, जिन्हें दस्त हो, वो भी यह आसन न करें।

4. नौकासन

कमर और पेट कम करने के उपाय में यह आसन फायदेमंद है। इसे करने से छोटी आंत, बड़ी आंत और पाचन तंत्र बेहतर हो जाते हैं। साथ ही चर्बी कम करने के लिए भी इसे फायदेमंद माना जाता है। पेट कम करने के लिए नौकासन को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लें।

योगासन करने का तरीका :

  • सबसे पहले पीठ के बल जमीन पर लेट जाएं और एड़ियों व पंजों को आपस में मिला लें।
  • दोनों हाथ कमर के साथ सटे होने चाहिए और हथेलियां जमीन की ओर होनी चाहिए।
  • पहले एक लंबी गहरी सांस लें और फिर सांस छोड़ते हुए दोनों पैर, हाथ व गर्दन को सामांतर ऊपर की तरफ उठाएं, ताकि शरीर का पूरा भार कूल्हों पर आ जाए।
  • इस स्थिति में करीब 30 सेकंड रहें और सामान्य रूप से सांस लेते रहें।
  • इसके बाद धीरे-धीरे सांस लेते हुए सामान्य अवस्था में आ जाएं।

सावधानी : जिन्हें कमर व पेट संबंधी कोई गंभीर रोग हो, उन्हें यह आसन नहीं करना चाहिए। साथ ही गर्भवती महिलाओं को भी इस आसन से परहेज करना चाहिए।

5. सेतुबंध योगासन

सेतुबंध योगासन के अभ्यास करने से पेट व् कमर के पास जमी चर्बी को कम करने में मदद मिलती है। साथ ही यह पेट व जांघों की मांसपेशियां मजबूत करने और गर्दन में किसी तरह का दर्द या फिर खिंचाव को कम करने में सहायक हो सकता है।

योगासन करने का तरीका :

  • जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं और दोनों घुटनों को मोड़कर एड़ियों को कूल्हों के साथ सटा लें।
  • इसके बाद दोनों हाथों से एड़ियों को पकड़ लें।
  • अब सांस लेते हुए कमर को ऊपर की ओर उठाएं, जबकि पैरों व हाथों को उसी स्थिति में रहने दें।
  • करीब 30 सेकंड इसी अवस्था में रहें और सामान्य गति से सांस लेते रहें।
  • इसके बाद सांस छोड़ते हुए सामान्य अवस्था में आ जाएं।
  • इस आसन के 4-5 राउंड किए जा सकते हैं।

सावधानी : उच्च रक्तचाप से ग्रसित लोगों को यह आसन नहीं करना चाहिए।

पेट और कमर की चर्बी के लिए कुछ और टिप्स – Tips to Reduce Belly Fat in Hindi

आइए बात करते हैं पेट अंदर करने के टिप्स के बारे में, जिन्हें अपनाने से शरीर की अतिरिक्त चर्बी छूमंतर हो सकती है। यह पेट कम करने के घरेलू नुस्खे की तरह काम कर सकते हैं।

  1. संतुलित मात्रा में खाएं : दिनभर में तीन बार भूख से अधिक खाने से पेट कैसे कम होगा, जरा सोचिए। इसी वजह से जरूरी है कि हर तीन से चार घंटे में थोड़ा-थोड़ा खाना खाया जाए। इससे पाचन भी अच्छा होगा और शरीर में अतिरिक्त चर्बी भी नहीं जमेगी। यही वजह है कि संतुलित मात्रा में भोजन करना हमारे लिए फायदेमंद है।
  2. अधिक पानी पिएं : दिनभर में आठ-दस गिलास पानी पीना सेहत के लिए जरूरी है। पानी तभी नहीं पीना चाहिए, जब प्यास लगी हो या फिर गला सूख रहा हो। हर तय समय पर थोड़ा-सा पानी पीना चाहिए। पानी पीने से ओवर इटिंग यानी की ज्यादा खाने की की आदत कम हो सकती है।
  3. नाश्ता न भूलें : जितना जरूरी सांस लेना है, उतना ही जरूरी नाश्ता है। कुछ लोग सोचते हैं कि नाश्ता नहीं करने से वजन कम होता है, जबकि ऐसा नहीं है। उल्टा नाश्ता न करने से भूख बढ़ती है और हम ज्यादा खा सकते हैं, जिससे वजन बढ़ने की समस्या पैदा हो सकती है। इसी वजह से हमें हमेशा संतुलित मात्रा में सही समय में नास्ता करना चाहिए।
  4. ग्रीन–टी : इसके बारे में आपने जरूर सुना ही होगा। इसमें कैटेचिन कंपाउंड वजन नियंत्रण में सहायक सिद्ध हो सकता है। ऐसे में वजन कम करने के लिए दिनभर में कम से कम एक कप ग्रीन-टी पी जा सकती है। Research में यह भी स्पष्ट है कि कैफीन के अधिक सेवन से कैटेचिन के वजन नियंत्रण प्रभाव में बाधा पड़ सकती है।
  5. पोटैशियम युक्त खाद्य पदार्थ : केला, खुबानी और संतरे में भरपूर मात्रा में पोटेशियम पाया जाता है, जो वजन कम करने में मदद कर सकता है।
  6. फल व सब्जियां : दिनभर में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में फल व सब्जियों का सेवन करते रहना चाहिए। इससे भूख कम लगेगी और मोटापा कम करने में मदद मिलेगी।
  7. स्मूदी : संभव हो तो दिन की शुरुआत फलों की स्मूदी के साथ करें। खासकर, तरबूज की स्मूदी का सेवन करना चाहिए। तरबूज में पर्याप्त मात्रा में पानी होता है। इसे खाने के बाद पेट भरा रहता और कुछ खाने का मन नहीं करता।
  8. पूरी नींद : पेट की चर्बी कम करने के तरीके तभी काम करते हैं, जब व्यक्ति पूरी नींद लेता है। हर किसी को सात-आठ घंटे की नींद लेनी ही चाहिए। कम या ज्यादा सोना, दोनों ही वजन बढ़ाने के लिए अहम कारण हैं। कहा भी जाता है कि अगर आप पूरी नींद सोते हैं, तो पाचन तंत्र अच्छे से काम करता है और भोजन को पचने में मदद मिलती है।
  9. दिनचर्या में बदलाव जरूरी : पेट अंदर करने के तरीके आजमाने के साथ ही दिनचर्या में बदलाव भी जरूरी है। दिनभर बैठे रहना या बार-बार कुछ-न-कुछ खाते रहना, ऐसी आदतों को बदलना जरूरी है।
  10. चीनी युक्त और डीप फ्राइड खाना खाने से बचें : व्यक्ति पेट कम करने का तरीका चाहे कोई भी क्यों न अपनाए, लेकिन चीनी वाले और डीप फ्राइड खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना जरूरी है। अन्यथा, पेट का मोटापा कम करने के उपाय अपना असर नहीं दिखा पाएंगे।

हमारी अंतिम राय –

सभी बातों से यह स्पष्ट है कि कमर और पेट की चर्बी कम करना इतना मुश्किल नहीं है। एक्सरसाइज, जीवनशैली में बदलाव और संतुलित भोजन से हर कोई आसानी से वजन कम कर सकता है।

बस जरूरत है, तो दृढ़ संकल्प की, जिसके बिना मनुष्य कुछ नहीं कर पाता है। हां, अगर किसी का वजन जरूरत से कहीं ज्यादा है, तो इस लेख में बताए गए उपायों के साथ-साथ डॉक्टर से चेकअप करवाना भी जरूरी है।

तो हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह लेख पेट और कमर की चर्बी कम कैसे करें ? जरूर पसंद आयी होगी। जिसमे हमने जाना पेट पर चर्बी जमा होने के कारण, पेट की चर्बी कम करने के लिए योग, पेट की चर्बी कम करने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं तथा पेट और कमर की चर्बी कम करने के लिए जरुरी व्यायाम के बारे में।

आपको हमारा यह लेख Tips To Reduce Belly Fat In Hindi में कैसा लगा comment करके हमें जरूर बताएं। अगर फिर भी आपको इस लेख को लेकर कोई doubts है तो आप बेझिझक हमसे पूछ सकते हैं। हम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here